चम्पावत

चम्पावत: भूखे प्यासे मजदूरों की पालनहार बनी लोहाघाट पुलिस

थाना पुलिस लोहाघाट ने लॉकडाउन के दौरान नेकी की राह पर चलते हुए करीब 65 दिहाड़ी में काम करने वाले मजदूरों को भोजन करवाया। इसके लिए बकायदा पुलिस कर्मियों ने उन मजदूरों को विधिवत सेनेटाइज कर करीब दो मीटर के फासले पर रखकर खाने के पेकेट दिया। इस काम में पुलिस कर्मियों ने आपस में रुपया जमा किया।

गुरुवार को नगर लोहाघाट में लॉकडाउन के दौरान एसओ मनीष खत्री की नजर जब पिथौरागढ से पैदल चलकर आ रहे भूखे प्यासे मजदूरों पर पड़ी तो। एसओ से रहा नहीं गया। उन्होंने तुरंत पुलिस कर्मियों से मिलकर सबको भोजन करवाने का निर्णय लिया। पुलिस कर्मियों ने आपस में चंदा एकत्र कर मजदूरों के भोजन, पानी और मास्क की व्यवस्था कर दी। स्टेशन बाजार में यह नजारा देखकर कुछ स्थानीय लोग भी सहायता के लिए आ गए। इस दौरान लोहाघाट समेत पिथौरागढ से आए करीब 65 मजदूरों ने भोजन किया। मजदूरों ने बताया कि वह अपने घर बहराइच जा रहे हैं और रास्ते में उन्हें खाना तक नसीब नहीं हो पाया। एसओ खत्री ने बताया कि सभी मजदूरों को पहले सेनेटाइज किया गया और उचित दूरी पर बैठाकर उनको भोजन करवाया है। उन्हें मास्क और पानी की बोतलें भी दी गई हैं। पुलिस टीम में एसआई हेमंत कठैत, एसआई देवेन्द्र मेहता, भुवन भारती, प्रदीप, नरेश और यातायात पुलिस कर्मियों के साथ नगर के लोग भी शामिल रहे।

Tags
Show More

Related Articles