राष्ट्रीय ख़बरें

देश: कोरोना को हराने के लिए पीएम मोदी ने मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी, अपने-अपने राज्यों में लीड करने को कहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्ववाली सरकार ने वैश्विक महामारी कोरोना वायरस को हराने के लिए केंद्र में अपने मंत्रियों से कहा है कि वे अपने राज्यों की जिम्मेदारी संभालें और नेतृत्वकर्ता की भूमिका निभाएं। सूत्रों ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि प्रधानंमत्री कार्यालय (पीएमओ) से जारी एक पत्र सभी मंत्रियों को भेजा गया है, जिसमें उन्हें तेजी से फैल रही महामारी को रोकने के लिए सक्रिय और असरकारी किरदार निभाने को कहा गया है।

एक मंत्री ने कहा, “सांसदों से यह सुनिश्चित करने को कहा गया है कि गरीब और वंचित तबकों को खाना मिले और इसीलिए उनके इलाके के सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) दुकानों पर राशन की कोई कमी ना हो, स्थानीय बाजार में रोजमर्रा की सभी जरूरी चीजें मौजूद हों और किसी भी सामान के लिए उचित मूल्य से ज्यादा ना लिया जाए।” इसके साथ ही मंत्रियों से यह भी कहा गया है कि वे लगातार स्थानीय प्रशासन के संपर्क में रहें और अपने संसदीय क्षेत्र में कोरोना वायरस के ताजा हालात से खुद को अपडेट रखें।

पत्र के बारे में जानकारी देते हुए सूत्र ने यह बताया कि “सांसदों को स्थानीय जिलाधिकारी के संपर्क में रहने को कहा गया है। यह सुनिश्चित करने के लिएए भी कहा गया है कि जो लोग विदेश से लौटे हैं वो क्वारेंटाइन नियमों को मानें और कोरोना वायरस से पॉजिटिव लोग व इस महामारी से मरनेवालों का डाटा तैयार करते रहें।” जिन मंत्रियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है, उनमें मुख्तार अब्बास नकवी को झारखंड के हालात पर नजर रखने को कहा गया है, जबकि नितिन गडकरी और प्रकाश जावड़केर को महाराष्ट्र का जिम्मा मिला है। ठीक इसी तरह से, राजनाथ सिंह, महेंद्रनाथ पांडे, संजीव बालियान और कृष्णपाल गुर्जर के कंधे पर उत्तर प्रदेश की कमान है।

भारत में मरीजों की संख्या 649


वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, ”भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या गुरुवार (26 मार्च) को 649 हो गई। देश मे अभी तक इस वायरस के संक्रमण से 13 लोगों की मौत हुई है। अंतिम तीन मौतें गुजरात, तमिलनाडु और मध्यप्रदेश में हुई हैं।” प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार (24 मार्च) की रात बेहद भावुक अपील में 21 दिन लंबे राष्ट्रव्यापी सम्पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की थी।

मच्छरों के जरिए कोरोना फैलने से इनकार


स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि 17 राज्यों ने कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए पूरी तरह समर्पित अस्पताल चिह्नित करने का काम शुरू कर दिया है। कोरोना वायरस से जुड़े हालात पर मीडिया को जानकारी देते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा, ”अभी तक यह कहने के लिए कोई पुख्ता साक्ष्य नहीं है कि भारत में कोरोना वायरस संक्रमण का प्रसार समुदाय के स्तर पर हो रहा है।” उन्होंने इस बात से भी इंकार किया कि यह वायरस मच्छरों के जरिए फैलता है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker