राष्ट्रीय ख़बरें

देश: जमियत उलेमा-ए-हिंद की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट का CAA को लेकर केन्द्र को नोटिस

नागरिकता संशोधन कानून पर देश के कई हिस्सों में अब भी प्रदर्शन किया जा रहा है। इस बीच, जमियत उलेमा-ए-हिंद की तरफ से नागरिकता (संशोधन), कानून 2019 की संवैधानिकता और एनआरसी के खिलाफ दायर की गई याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केन्द्र सरकार को नोटिस भेजते हुए जवाब मांगा है।

Supreme Court has issued notice to the Centre on a plea challenging the constitutional validity of Citizenship (Amendment) Act, 2019 & NRC. The court has sought the govt’s reply & tagged the matter along with similar pending matters. The petition was filed by Jamiat Ulema-e-Hind. pic.twitter.com/bwFb5ej4b1

— ANI (@ANI) February 14, 2020

शाहीन बाग में पहुंच रहे कम लोग

दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ शाहीन बाग में हो रहे प्रदर्शन में अब लोग कम आ रहे हैं। चुनाव के बाद शाहीनबाग प्रदर्शनस्थल पर पहले के मुकाबले भीड़ कम हुई है। मंच से बार-बार ज्यादा से ज्यादा भीड़ जुटाने के लिए अब अपील की जा रही है।

गुरुवार को भी मंच से लाउडस्पीकर पर लोगों से ज्यादा से ज्यादा संख्या में यहां पहुंचने की अपील की जा रही थी। वहीं, पुलवामा हमले की पहली बरसी को देखते हुए 14 और 15 फरवरी को शाहीनबाग में कोई राजनीतिक भाषण नहीं होगा। दोनों दिन यहां देशभक्ति कार्यक्रम आयोजित होंगे। 61वें दिन गुरुवार को इस बारे में मंच से बार-बार ऐलान किया जा रहा था। इस अवसर पर पंजीकरण करवाने की अपील की गई।

प्रधानमंत्री से अपील:

प्रदर्शनस्थल पर वेलेंटाइन डे की पूर्व संध्या पर प्रधानमंत्री के नाम से गुलदस्ते बनाकर रखे गए हैं। उन पर अंग्रेजी में लिखा है कि मोदी कृपया शाहीनबाग में आइए। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि दो माह से उनका प्रदर्शन चल रहा है। प्रधानमंत्री अपने चुनावी भाषणों में कई बार प्रदर्शन का जिक्र कर चुके हैं। तीन तलाक के मुद्दे पर भी उन्होंने मुस्लिम महिलाओं के प्रति अपनी चिंता जाहिर की थी। अगर उन्हें उनकी चिंता है तो वह उनसे मिलने क्यों नहीं आते।

ट्रांसजेंडर जुटेंगे:

रविवार को शाहीनबाग में बच्चों को संगीत, एक्टिंग आदि पर कक्षाएं दी जाएंगी। इस क्षेत्र से जुड़े छात्र व शिक्षक इसके बारे में बताएंगे। 14 फरवरी को सवाल-जवाब सत्र भी होगा, जिसमें अधिवक्ता सीएए, एनआरसी व एनपीआर पर लोगों के सवालों पर जवाब देंगे। इसके अलावा जल्द ही ट्रांसजेंडर वक्ता भी प्रदर्शनकारियों के समर्थन में जुटेंगे।

ये भी पढ़ें: संभल में सीएए के खिलाफ धरने को लेकर नौ महिलाओं सहित 75 को नोटिस

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker