राष्ट्रीय ख़बरें

देश: जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष का नया ऐलान, रजिस्ट्रेशन करेंगे लेकिन नहीं देंगे हास्टल की बढ़ी हुई फीस

जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय (JNU) में हुई हिंसा के मामले में जेएनयूएसयू अध्यक्ष सहित अन्य छात्रों का नाम आने पर जेएनयू छात्र संघ ने शनिवार को कैंपस में प्रेसवार्ता की। इस प्रेसवार्ता में छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष (Aishi Ghosh) ने कहा कि हम सबने रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया में हिस्सा लेने व केवल उसी का शुल्क अदा करने का निर्णय लिया है। हम हास्टल की बढ़ी हुई फीस नहीं जमा करेंगे। इसके अलावा जब तक कुलपति को नहीं हटाया जाता हमारी लड़ाई जारी रहेगी।

छात्र संघ अध्यक्ष आईशी घोष ने कहा कि हम शीतकालीन सत्र के लिए रजिस्टर करा सकते हैं लेकिन सिर्फ रजिस्ट्रेशन शुल्क देंगे। छात्रावास शुल्क जोकि बढ़ाया गया है उसकी एक पाई हम जमा नहीं करेंगे। छात्र संघ पदाधिकारियों ने जेएनयू प्रशासन, कुछ शिक्षक, एबीवीपी और दिल्ली पुलिस पर छात्र संघ अध्यक्ष ने साधा निशाना।

जेएनयू छात्र संघ के उपाध्यक्ष साकेत मून ने 4 जनवरी से 5 जनवरी और उसके बाद की घटना का क्रमवार पूरा विवरण मीडिया के समक्ष प्रस्तुत किया। साबरमती छात्रावास के सामने प्रेसवार्ता कर दिल्ली पुलिस द्वारा जारी किए गए 7 वामपंथी छात्रों के नामों और 5 जनवरी की घटना में दिल्ली पुलिस की निष्क्रियता पर बयान जारी किया।  उन्होंने कहा कि जब कैंपस में बाहरी लोग आकर मारपीट करने लगे तब हमने 3 बजे वसंत कुंज पुलिस को व्हाट्सअप मैसेज भेजा जिसे 3 बजकर 7 मिनट पर पढ़ लिया गया। लेकिन यहां कार्रवाई नहीं हुई। इस पूरे मामले में पुलिस की निष्क्रियता है।  

यह भी पढ़ें: गावस्कर बोले, देश मुश्किल में लेकिन हम पहले भी संकट से बाहर निकले हैं

जेएनयू छात्र संघ पदाधिकारियों ने दिल्ली पुलिस द्वारा दिखाए गये फोटो पर भी सवाल उठाया। यही नहीं उन्होंने इस पर भी आपत्ति जताई कि दिल्ली पुलिस ने प्रेसवार्ता में वामपंथी छात्र संगठनों के नाम तो लिए लेकिन एबीवीपी में से किसी का नाम नहीं लिया।  छात्रसंघ ने कहा कि जेएयूएसयू पर सर्वर रूम तोड़े जाने का आरोप लगाया जा रहा है जबकि 5 जनवरी को मेल किस आधार पर विश्वविद्यालय प्रशासन भेज रहा था।

जिन छात्रों ने नाम दिल्ली पुलिस ने जारी किए हैं वह वायरल वीडियो और फोटो के आधार पर हैं। जिसे बीजेपी आईटी सेल ने एडिट कर दिया है। इन वायरल चीजों की कोई सत्यता प्रमाणित नहीं है।

वायरल फोटो दिखा रही थी पुलिस

जेएनयू छात्र संघ ने दिल्ली पुलिस पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि दिल्ली पुलिस जो फोटो दिखा रही है वह तमाम जगहों पर वायरल हुई है। बिना उसकी सत्यता की जांच किए दिल्ली पुलिस यह जारी की है। 

Express Your Reaction
Like
Love
Haha
Wow
Sad
Angry
You have reacted on "देश: जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष का नया ऐ..." A few seconds ago

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker